Labels

परीक्षा | Hindi article by Shilpashri Kalita

 परीक्षा

परीक्षा | Hindi article by Shilpashri Kalita

            हर व्यक्ति के जीवन में परीक्षा देने का अवसर जरूर आता है और उस परीक्षा देने वाला वह व्यक्ति कितना सफल होता है, कितना असफल होता है यह उसकी काबिलियत और मेहनत पर निर्भर होता है | मेहनत से कोई काम असफल नहीं होता | परीक्षा हमारे जीवन में कभी भी आ सकता है और किसी के द्वारा भी लिए जा सकते हैl  हमें जीवन में कभी कुछ ऐसी भी परीक्षाएँ देनी पड़ती हैं, जिसको कब देना पड़ता है हमें मालूम नहीं होता l  हम परीक्षाओं की तैयारी करके सफल तो हो जाते हैं, लेकिन जीवन के रास्ते में जो कठिन परीक्षाएँ आती हैं, उन परीक्षाओं में अगर हमें सफल होना हैं, तो ज्ञान और बुद्धि का उपयोग करना पड़ेगा  क्योंकि इस परीक्षा का कोई भी समय निर्धारित नहीं होता l यह कभी भी किसी भी रुप में आपके सामने आ सकता हैl 
        परीक्षा का मतलब व्यक्ति के अंदर की काबिलियत को पहचानना l  अंदर की काबिलियत को पहचानने  से  हम अपने जीवन को सुंदर और रंगीन बना सकते हैं lश्रेष्ठा की पहचान को किसी स्थिति का सामना करने की तैयारी का निरीक्षण ही सदैव परीक्षा का उद्देश्य रहा हैl  परीक्षा हमें कमियों और हमारी ताकत के बारे में बताती हैं l यह एक मित्र की तरह है जो हमें सच्चाई का आईना दिखाती है l यदि परीक्षाओं का अस्तित्व ना होता तो शायद जिंदगी में आगे बहुत मुश्किल होती l  उदाहरण के लिए मान लीजिए कि आपको जंगल में रहने का प्रशिक्षण दिया जाता है l प्रशिक्षण पूरा होने के बाद आपको सीधा जंगल में रहने नहीं दिया जाएगा l  पहले आपकी परीक्षा होगी, जो कि आपकी योग्यता को परखने के लिए बहुत आवश्यक हैl  ऐसे में आपके पास एक और मौका रहता है कि हम खुद को सुधार सकते हैं l  इस तरह हम अपने आप को ही किसी तरह से हीरे की तरह तलाश सकते हैं, जो हमें आगे बढ़ने में सहायता करते हैं l 
        परीक्षा का नाम सुनते ही अधिकतर लोगों के मन में घबराहट सी पैदा हो जाते हैं,  लेकिन परीक्षा तो हमारी दोस्ती की तरह है l  परीक्षा हमेशा सच्चाई से जुड़ी होती है और यदि आप परीक्षा से डरते हैं तो इसका अर्थ है कि आप सच्चाई से डरते हैं l 

**************************

शिलपाश्री कलिता 
फ्रन्टलाईन इंलिस स्कूल
कक्षा – आठवीं
शिक्षाखंड- कररा





चित्रण : पुबाली शइकीया दास


Post a Comment

0 Comments